LATEST POSTS

Friday, 8 February 2019

बच्चों का मन पढ़ाई में नहीं लगता तो बसंत पंचमी पर करें यह उपाय

बच्चों का मन पढ़ाई में नहीं लगता तो बसंत पंचमी पर करें यह उपाय


वे छात्र जो पढ़ाई लिखाई में कमजोर हैं अगर बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा करें तो उन पर विशेष कृपा होती है।  छात्र इस दिन अपनी किताब-कॉपी और कलम की भी पूजा करते हैं।
बसंत पंचमी का त्‍यौहार 10 फरवरी को मनाया जा रहा है। इस दिन विद्या और बुद्धी की देवी मानी जाने वाली मां सरस्‍वती की पूजा की जाती है। माना जाता है कि मां सरस्‍वती की जिस बच्‍चे पर भी कृपा बन गई उसकी बुद्धि अन्य बालकों से तेज हो जाएगी। इसलिए बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की अराधना जरूर करनी चाहिए।

वे छात्र जो पढ़ाई लिखाई में कमजोर हैं अगर बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा करें तो उन पर विशेष कृपा होती है। छात्र इस दिन अपनी किताब-कॉपी और कलम की भी पूजा करते हैं। पुराने जमाने में बसंत पंचमी के दिन से ही बच्‍चों की शिक्षा आरंभ करवाई जाती थी। यह परपंरा आज भी जीवित है। इस दिन मां सरस्‍वती की पूजा करने के लिए पीला या सफेद कपड़ा धारण करना चाहिए। इसके बाद मां सरस्‍वती को पीले और सफेद पुष्प अर्पित करना चाहिए।
पढ़ाई में सफलता के उपाय

वे बच्‍चे जिनका मन पढ़ाई-लिखाई में नहीं लगता है उन्‍हें बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को हरे रंग का फल चढ़ाना चाहिए।  इसके अलावा घर में पढ़ाई के कमरे में मां सरस्वती का चित्र लगाना चाहिए, इससे पढ़ाई पर ध्‍यान टिका रहता है।  बच्‍चे को अगर ज्ञानी बनाना है तो इस दिन उसके जीभ पर शहद से ॐ बनाएं।  यदि बच्‍चे अपनी किताबों पर पीले रंग का कवर चढ़ा कर उस पर रोली से स्वास्तिक बनाएं तो उनका कल्‍याण होगा।  इस दिन पूजा करने के दौरान केवल मां सरस्वती की ही नहीं बल्‍कि साथ में श्रीगणेश की मूर्ति की पूजा जरूर करें।
पूजा करते वक्‍त मां सरस्‍वती के सामने मां-बाप बच्‍चों को गोद में बिठाएं और फिर उनके हाथ से भगवान श्री गणेश को फूल अर्पित कर अक्षर अभ्यास कराएं।

Share this:

Post a Comment

 
Copyright © 2019 Vrat Aur Tyohar. | All Rights Reserved '>