LATEST POSTS

Wednesday, 12 June 2019

निर्जला एकादशी के दिन भूलकर भी ना करें ये 5 गलतियां

निर्जला एकादशी के दिन भूलकर भी ना करें ये 5 गलतियां



ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहा जाता है। इस बार यह 13 जून को है। स्कंद पुराण के अनुसार इस एकादशी पर व्रत करने से सालभर की सभी एकादशियों के व्रत के बराबर पुण्य फल मिल जाता है। निर्जला एकादशी के दिन व्रत रखने के साथ ऊं नमो भगवते वासुदेवाय नम: का 108 बार जप करने से अक्षय पुण्य मिलता है। इस दिन कुछ काम करने की मनाही होती है, अगर आप इस दिन ये गलतियां करते हैं तो व्रत करने का
पूरा पुण्य खो देते हैं।

1. एकादशी की रात को सोना नहीं चाहिए। पूरी रात जागकर भगवान विष्णु की भक्ति करनी चाहिए। इससे भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है।

2. एकादशी के दिन पान खाना भी वर्जित माना गया है। पान खाने से मन में रजोगुण की प्रवृत्ति बढ़ती है।

3. इस दिन चावल का सेवन नहीं करना चाहिए। कहा जाता है कि इस दिन चावल का सेवन करने वाला पाप का भागी बनता है।

4. चुगली करने से मान-सम्मान में कमी आ सकती है। कई बार अपमान का सामना भी करना पड़ सकता है।

5. एकादशी पर क्रोध भी नहीं करना चाहिए। इससे मानसिक हिंसा होती है।

Share this:

Post a comment

 
Copyright © 2019 Vrat Aur Tyohar. | All Rights Reserved '>